Mehsoos Dosti Shayari

महसूस करो तो “दोस्त” कहना,
छलकूं तो “जज़्बात”
बदलूँ तो, मुझे ‘वक़्त’ कहना,
थम जाऊँ तो “हालात”।

Mohabbat Ke Liye Shayari

“नज़रे करम” मुझ पर इतना न कर,
की तेरी मोहब्बत के लिए बागी हो जाऊं,
मुझे इतना न पिला इश्क़-ए-जाम की,
मैं इश्क़ के जहर का आदि हो जाऊं।

Anmol Vachan about Arrogance

इंसान को कभी भी घमंड और अभिमान नहीं करना चाहिए,
भगवान ने जाने कितने अभिमानी लोगों को मिट्टी से बनाकर मिट्टी में मिला दिया।

Pappu Ka Dada Hindi Chutkula

दादा (पप्पू से) :- बेटा अंदर से जरा मेरे दांत लेकर आना। ?

पप्पू :- पर दादू अभी तो रोटी भी नहीं बनी?

दादा :- अबे रोटी को मार गोली सामने वाली पड़ोसन को Smile देनी है। ?????

Mohabbat Ki Gham Bhari Shayari

Mere Dil Mein Jis Shakhs Ka Qyaam Hai Dosto
Meri Nazar Mein Uska Baut Uncha Maqaam Hai Dosto

Humaari Mohabbat Ki Duniya Ko Khabar Hone Lagi Hai
Aajkal Humaare Pyar Ka Charcha Aam Hai Dosto

Khuda Kare Usey Meri Bhi Sabhi Khushiyan Mil Jayein
Mere Sath Uske Gham Ki Shaam Hai Dosto

Ab To Kisi Se Baat Karna Acha Nahi Lagta
Din Raat Honthon Pe Usi Ka Naam Hai Dosto

Asghr Ko Gham Dene Waley Tu Sadaa Khush Rah
Uske Liye Mera Yehi Aakhri Paigham Hai Dosto …

– M.Asghar Mirpuri

Tumse Pyar Kitna Shayari

Sirf Ye Mat Dekh Ke Main Hun Gunaahgar Kitna
Ye Bhi Dekh Ke Main Tera Hun Wafadar Kitna

Main Huya Hun Zamaane Ki Nafraton Ka Shikar
Tu Ye Bhi To Dekh Mujhe Tumse Hai Pyar Kitna …

Khas Romantic Shayari

एक पल के लिए जब तू पास आता है,
मेरा हर लम्हा ख़ास बन जाता है,

सँवरने सी लगती है ये ज़िन्दगी अपनी,
जब भी तू मेरी बाहों में मुस्कुराता है।

Raksha Bandhan Par Shayari

Agar Raksha Bandhan Par,
Koi Ladki Kisi Bhi Ladke Ko,
Bhai Bana Sakti Hai,
To Fir Karwa Chauth Ko
Pati Kyon Nhi Bana Sakti??

Hume Insaaf Chahiye!

– Indian Male Association

Happy Raksha Bandhan

Mere Dil Ki Baat

Koi Kah De Mere Dil Ki Baat Unse,
Har Taraf Se Hui Dil Ki Maat Unse,

Jaan-Pahchan Hi Kara De Gar Koi,
Ek-Ek Lamha Ho Shuruaat Unse,

Log Puchhte Hain Muskuraht Ki Wajah,
Hamne Kaha Hui Mulakat Unse,

Khoya Hua Raha Main Aaz Talak,
Ab Mila Do Mere Jazbaat Unse,

Karenge Chand Se Kuchh Baatein Hum,
Milte Huve Dekha Hai Har Raat Unse…

Dard Ke Phool

Dard Ke Phool Bhi Khilte Hain Bikhar Jaate Hain
Zakham Kaise Bhi Hon Kuch Roz Mein Bhar Jaate Hain

Raasta Roke Khadi Hai Yahi Uljhan Kab Se
Koi Puchhe To Kahein Kya Ki Kidhar Jana Hai

Chhat Ki Kadiyon Se Utarate Hain Mere Khwab Magar
Meri Deewaron Se Takraa Kar Bikhar Jaate Hain

Narm Alfaaz, Bhali Baatein, Muhzzab Lehje,
Pehli Barish Hi Mein Ye Rang Utar Jaate Hain

Us Khidki Mein Bhi Ab Koi Nahi Aur Hum Bhi
Sir Jhukaye Huye ChupChaap Guzr Jaate Hain…

– Javed Akhtar

Humne Kisi Ka Dil

जहाँ खामोश फिजा थी, साया भी न था,
हमसा कोई किसी जुर्म में आया भी न था,
न जाने क्यों छिनी गई हमसे हंसी,
हमने तो किसी का दिल दुखाया भी न था।

Latest Shayari in Hindi Language

Latest Shayari in Hindi Language

मुसाफ़िराना सी है ज़िन्दगी,
कुछ मंज़िले अधूरी सी है,
कुछ ख़्वाब मुकम्मल हुए हैं,
बस कुछ थोड़े और बाकी है।

ना रात की गहराइयाँ दहला सकी,
न दिनों के मशरूफ़े हिला सके,
हैरान कम्भखत मेरे दिल ने कहा,
रहने दे अब जो भी बाकि है,

बीत गए कई लम्हे,
मौसम भागते भागते,
मंज़िले-ए-ख्वाहिश के चक्कर में,
कुछ सुकून मेरी रूह भी चाहती है,
कुछ दो पल का आराम अभी बाकि है,

भाग रहा हूँ न जाने किस ख़्वाब की चाहतों में,
हैरान परेशान थका हुआ सा,
आँखों में भरी बहुत नींद सी है,
डर तो इस बात का है के,
पागल दिल के फरमान अभी बाकि हैं,

मुसफ़िराना सी है ज़िन्दगी,
कुछ मंज़िले अधूरी सी है,
कुछ ख़्वाब मुकम्मल हुए हैं,
बस कुछ थोड़े और बाकी है।

– Hi This is Banshi Gurjar, a software professional, I am not much more eged but have seen the life very closely, an ambitious person with never ending dreams and never fading hard work, love to write in leisure.